Categories
रहस्‍यमयी भारत स्तोत्र

Gayatri mantra meaning in hindi | गायत्री मंत्र के रहस्य

Gayatri Mantra – Origin, Meaning, Benefits and Significance in Hindi
गायत्री मंत्र से जुड़े रोचक तथ्य


आपको जानकार आश्चर्य होगा कि गायत्री मंत्र में 24 अक्षर होते हैं और वाल्मीकि रामायण में 24,000 श्लोक हैं। रामायण के हर 1000 श्लोक के बाद आने वाले पहले अक्षर से गायत्री मंत्र बनता है।

क्या आपको पता है गायत्री मंत्र का अर्थ (Gayatri Mantra Meaning)

ॐ भूर्भुवः स्वःतत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो नः प्रचोदयात् ॥

मंत्र संक्षेप में – हे प्रभु, कृपा करके हमारी बुद्धि को उजाला प्रदान कीजिये और हमें धर्म का सही रास्ता दिखाईये।
अर्थ
हे श्रृष्टि के रचियता, आप सभी के जीवन के करता-धर्ता हैं,
आप हमारे दुख़ और दर्द का निवारण करने वाले हैं।
आप हमें सुख- शांति का रास्ता दिखाने का उपकार करें।
हे प्रभु कृपया आप हमें शक्ति व बुद्धि का मार्ग प्रदान कर
हमारे जीवन को उज्जवल बनाए।

गायत्री मंत्र का महत्व (Gayatri Mantra Benefits and Significance)

  • गायत्री मंत्र को सर्वप्रथम ऋग्वेद में उल्लेखित किया गया।यह मंत्र रामायण का सार है।
  • मंत्र का जाप भगवान सूर्य को प्रसन्न करने के लिए किया जाता है इसलिए प्रातः काल इस मंत्र का उच्चारण सर्वश्रेठ माना गया है।
  • अगर आपको हमेशा घभराहट रहती है या फिर आप नकारात्मकता महसूस करते हैं तो गायत्री मंत्र का उच्चारण करें इससे फायदा मिलेगा।
  • यह मंत्र दिमाग तेज करता है, तथा भूलने कि आदत का निवारण करता है।
  • इस मंत्र के जाप से आपका मन और दिमाग दोनों पूर्ण रूप से शांत और तनाव मुक्त रहते हैं।
  • अगर आप सरकारी परीक्षा कि तैयारी कर रहे हैं तो इस मंत्र का नियमित रूप से जाप अवश्य करें यह मंत्र मन को शांत करता है तथा सकरात्मक ऊर्जा प्रदान करता है जो विद्यार्थी के लिए अति आवश्यक है।
  • अगर आपके घर में छोटे बच्चे हैं तो यह मंत्र उन्हें जरूर याद कराएं।

आप पढ़ रहे हैं: Gayatri mantra meaning in hindi: गायत्री मंत्र के रहस्य

यह भी पढ़ें-

Hanuman Ji Ke 12 Naam | हनुमान जी के चमत्कारी नामों का रहस्य

Hanuman Ashtak in Hindi | चौथा लाभ अवश्य पढ़ें

परिवार एवं मित्रों के साथ शेयर करें -

Leave a Reply

Your email address will not be published.