Categories
नवरात्री 2019

Durga ji Ke 32 naam :इन 32 नामोंका पाठ करने से असंभव कार्य भी सिद्ध हो जाते हैं

Durga ji ke 32 naam jarur padhen

एक समय की बात है- ब्रह्मा आदि देवताओं ने पुष्प आदि विविध उपचारों से महेश्वरी दुर्गा का पूजन किया इससे प्रसन्न होकर दुर्गतिनाशिनी दुर्गा ने कहा- 

“देवताओं मैं तुम्हारे पूजन से संतुष्ट हूँ, तुम्हारी जो इच्छा है मांगो मैं तुम्हें दुर्लभ-से-दुर्लभ वस्तु प्रदान करुँगी।

माता का यह वचन सुनकर देवता बोले – “माँ! हमारे शत्रु महिषासुरका आपने वध कर दिया, इससे संपूर्ण जगत स्वस्थ एवं निर्भय हो गया। आपकी आज्ञा है इसलिए हम जगत की रक्षा के लिए आपसे कुछ पूछना चाहते हैं। 

महेश्वरी! कौन सा ऐसा उपाय है, जिससे शीघ्र प्रसन्न होकर आप संकट में पड़े हुए जीव की रक्षा करती हैं। महेश्वरी! यह बात सर्वथा गोपनीय हो तो भी हमें अवश्य बताएं”

देवताओं के इस प्रकार प्रार्थना करने पर दयामयी दुर्गा देवी ने कहा- “देवगण यह रहस्य अत्यंत गोपनीय और दुर्लभ है। मेरे बत्तीस नामों की माला सब प्रकार की आपत्ति का विनाश करने वाली है। तीनों लोकों में इसके समान दूसरी कोई स्तुति नहीं है। यह रहस्यरूप है। इसे बतलाती हूँ , सुनो- 

दुर्गा दुर्गार्तिशमनी दुर्गापद्विनिवारिणी।
दुर्गमच्‍छेदिनी दुर्गसाधिनी दुर्गनाशिनी ।।
दुर्गतोद्धारिणी दुर्गनिहन्त्री दुर्गमापहा।।
दुर्गमज्ञानदा दुर्गदैत्यलोकदवानला ।।
दुर्गमा दुर्गमालोका दुर्गमात्मस्वरूपिणी। 
दुर्गमार्गप्रदा दुर्गमविद्या दुर्गमाश्रिता ।।
दुर्गमज्ञानसंस्थाना दुर्गमध्यानभासिनी।
दुर्गमोहा दुर्गमगा दुर्गमार्थस्वरूपिणी ।।
दुर्गमासुरसंहन्त्री दुर्गमायुधधारिणी ।
दुर्गमाङ्गी दुर्गमता दुर्गम्या दुर्गमेश्वरी ।।
दुर्गभीमा दुर्गभामा दुर्गभा दुर्गदारिणी ।
नामावलिमिमां यस्तु दुर्गाया मम मानव:
पठेत् सर्वभयान्मुक्तो भविष्यति न संशय: ।।

अगर कोई मनुष्य शत्रुओं से पीड़ित हो अथवा किसी संकट में फस गया हो इन बत्तीस नामों के पाठमात्र से संकट से छुटकारा पा जाता है इसमें तनिक भी संदेह के लिए स्थान नहीं है। देवगण! इस नाममालाका पाठ करने वाले मनुष्यों की कभी कोई हानि नहीं होती”

देवताओं से ऐसा कहकर जगदंबा वही अंतर्ध्यान हो गईं। जगदम्बा मैया की जय।

दुर्गाजी के 32 नाम (Durga ji ke 32 naam) ही पर्याप्त हैं इसिलए इन ३२ नामों का पठन नियमित करें यह बहुत फलदायी है।


अगर पूजा के दौरान आपसे उच्चारण में कोई गलती हो जाए तो आपको अवश्य ही इस मंत्र का जाप कर लेना चाहिए।

Maa Durga ke 9 Naam: नवदुर्गा श्लोक के विशेष लाभ – जरूर पढ़ें

Jai Ambe Gauri Aarti, Maa Durga Aarti| माँ दुर्गा आरती, जय अम्बे गौरी


और भी पढ़ें –
।। दुर्गा चालीसा ।।
।। जाने माँ शैलपुत्री का स्वरुप और उन्हें प्रसन्न कैसे करें ।।
॥Maa Brahmacharini: माँ ब्रह्मचारिणी से मिलता है यह वरदान, जरूर पढ़ें॥

॥Maa Chandraghanta : क्यों है तीसरे दिन की पूजा का अत्यधिक महत्त्व?॥
।। जानिये नवरात्री में क्यों की जाती है कन्या पूजन ।।


परिवार एवं मित्रों के साथ शेयर करें -

Leave a Reply

Your email address will not be published.