Categories
आरती संग्रह

Shani Aarti | शनि आरती : जय जय श्री शनिदेव

Shani Aarti | शनि आरती प्रारम्भ जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी।सूरज के पुत्र प्रभु छाया महतारी॥ जय ॥ श्याम अंक वक्र दृष्ट चतुर्भुजा धारी।नीलाम्बर धार नाथ गज की असवारी॥ जय ॥ क्रीट मुकुट शीश रजित दिपत है लिलारी।मुक्तन की माला गले शोभित बलिहारी॥ जय ॥ मोदक मिष्ठान पान चढ़त है सुपारी।लोहा तिल तेल उड़द […]

Categories
आरती संग्रह

Karpuragauram Karunavtaaram |कर्पूरगौरं करुणावतारम्

Karpuragauram Karunavtaaram | कर्पूरगौरं करुणावतारम् कर्पूरगौरं करुणावतारम् संसार सारं भुजगेन्द्र हारम् ।सदा वसंतम, हृदयारविन्दे भवं भवानी संहितम नमामि ।।

Categories
आरती संग्रह

Pushpanjali Arpan | पुष्पांजलि अर्पण

Pushpanjali Arpan | पुष्पांजलि अर्पण सुमुध सुगन्धित सुमन लै, सुमन सुभक्ति सुधार, पुष्पांजलि अर्पण करू, देव करो स्वीकार।

Categories
आरती संग्रह

Annapurna Mata ki Aarti | अन्नपूर्णा देवी आरती

Annapurna Mata ki Aarti: अन्नपूर्णा माता की आरती- 1 जय अन्नपूर्णा माता, जय अन्नपूर्णा माता। ब्रह्मा सनातन देवी शुभ पल की दाता ॥ टेक ॥ अरिकुल पंदम्‌ बिनासिनि जय सेवक दाता। जग जीवन जगदम्बा हरिहर गुणगाता॥ जय ॥ सिंह को वाहन साजे कुण्डल हैं साथा। देब वृन्द जहं गाबत नृत्य करत जाता॥ सतयुग रूपशील अति […]

Categories
आरती संग्रह

Hanuman Ji Ki Aarti Hindi | श्रीहनुमानलला की आरती

Hanuman Ji Ki Aarti Hindi: श्रीहनुमानलला की आरती आरती कीजै हनुमानलला की, दुष्टदलन रघुनाथ कला की।जाके बल से गिरिवर कांपे, रोग दोष जाके निकट न झांपै। अंजनिपुत्र महा बलदायी, संतन के प्रभु सदा सहाई।दे बीरा रघुनाथ पठाये, लंका जारि सिया सुधि लाये। लंका-सो कोट समुद्र-सी खाई, जात पवनसुत बार न लाई।लंका जारि असुर संहारे, सियारामजी […]

Categories
आरती संग्रह

Aarti Satyanarayan Bhagwan Ki: श्री सत्यनारायण जी आरती

Aarti Satyanarayan Bhagwan Ki: श्री सत्यनारायण जी आरती ॐ जय लक्ष्मीरमणा, स्वामी जय लक्ष्मीरमणासत्यनारायण स्वामी, जन पातक हरणा॥ ॐ जय लक्ष्मीरमणा रत्नजडित सिंहासन, अद्भुत छवि राजेंनारद करत निरतंर घंटा ध्वनी बाजें॥ ॐ जय लक्ष्मीरमणा प्रकट भयें कलिकारण, द्विज को दरस दियोबूढों ब्राम्हण बनके, कंचन महल कियों॥ ॐ जय लक्ष्मीरमणा दुर्बल भील कठार, जिन पर कृपा […]

Categories
आरती संग्रह

Ganesh ji aarti in Hindi: गणेशजी की आरती

Ganesh ji aarti in Hindi: गणेशजी की आरती जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश देवा। माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा॥ एक दंत दयावंत, चार भुजाधारी। माथे पर तिलक सोहे, मूसे की सवारी॥ पान चढ़ें, फूल चढ़ें और चढ़ें मेवा। लडुअन का भोग लगे, संत करे सेवा॥ जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश देवा। माता जाकी […]

Categories
आरती संग्रह

Jai Laxmi Mata Aarti | लक्ष्मी जी की आरती

Jai Laxmi Mata Aarti: लक्ष्मी जी की आरती हिंदी में ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता तुमको निस दिन सेवत, हर विष्णु विधाता॥ ॐ जय उमा रमा ब्रम्हाणी, तुम ही जग माता सूर्य चन्द्र माँ ध्यावत, नारद ऋषि गाता॥ ॐ जय दुर्गा रूप निरंजनी, सुख-सम्पत्ति दाता। जो कोई तुम को ध्यावत, ऋद्धि सिद्धि […]

Categories
आरती संग्रह

Ahoi Mata Ki Aarti: अहोई माता की आरती हिंदी में

Ahoi mata ki aarti in hindi: अहोई माता की आरती हिंदी में जय होई माता जय होंईं माता।तुमको निशंदिन सेवत हर विष्णु विधाता॥ जय०ब्रह्माणी, रुद्राणी, कमला तू ही है जगमाता।सूर्य-चन्द्रमा ध्यावत नारद ऋषि गाता॥ जय०माता रूप निरन्जन सुख-सम्पत्ति दाता।जो कोई तुप्कों घ्यावत नित मंगल आता॥ जय०तू ही है पाताल बासन्ती तू ही है शुभदाता।प्रभाव कर्म […]

Categories
आरती संग्रह

साईं बाबा की आरती | Sai Baba ki Aarti

आरती श्री साईं गुरुवर की परमानन्द सदा सुरवर की। जाकी कृपा विपुल सुख कारी दुःख शोक संकट भयहारी।। शिर्डी में अवतार रचाया चमत्कार से तत्व दिखाया। कितने भक्त शरण में आए वे सुख़ शांति चिरंतन पाए।। भाव धरे जो मन मैं जैसा साईं का अनुभव हो वैसा। गुरु को उदी लगावे तन को समाधान लाभत […]